Breaking News
Home » Sports » रणजी ट्रॉफीः गुजरात के खिलाफ मुंबई 228 रन पर ढेर, 17 साल के पृथ्वी शॉ ने जड़ा अर्धशतक

रणजी ट्रॉफीः गुजरात के खिलाफ मुंबई 228 रन पर ढेर, 17 साल के पृथ्वी शॉ ने जड़ा अर्धशतक

गुजरात के खिलाफ रणजी ट्रॉफी फाइनल मुकाबले में मुंबई की टीम 228 रन पर सिमट गई. मुंबई के लिए 17 साल के पृथ्वी शॉ ने सर्वाधिक 71 रन बनाए. पहले दिन का खेल खत्म होने पर गुजरात ने बगैर कोई विकेट गंवाए दो रन बना लिए.

इंदौर के होलकर स्टेडियम पर टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए मुंबई की शुरूआत अच्छी नहीं रही. सलामी बल्लेबाज अखिल हेरवाड़कर को चार रन के निजी स्कोर पर आरपी सिंह ने एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया.

अखिल हेरवाड़कर के आउट होने के बाद उनके जोड़ीदार पृथ्वी शॉ ने श्रेयस अय्यर (14) के साथ दूसरे विकेट के लिए 41 और सूर्यकुमार यादव (57) के साथ तीसरे विकेट के लिए 52 रन की साझेदारी की.

रणजी ट्रॉफी में पदार्पण मैच में सचिन तेंदुलकर की तरह शतक जमाने वाले पृथ्वी शॉ ने फाइनल में 93 गेंदों पर 11 चौके की मदद से 71 रन बनाए. उनके अलावा सूर्यकुमार यादव (57), अभिषेक नायर (35) और सिद्धेश लाड (23) अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में बदलने में नाकाम रहें.

-इंदौर के होलकर स्टेडियम पर कड़ाके की सर्दी के बीच गुजरात के कप्तान पार्थिव पटेल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया.

-तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने अखिल हेरवाड़कर (4) को एलबीडब्यू आउट कर कप्तान के फैसले को सही साबित किया.

-तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए श्रेयस अय्यर ने पृथ्वी शॉ के साथ दूसरे विकेट के लिए 41 रन जोड़े.

-चिंतन गाजा (14) ने अय्यर को विकेट के पीछे पार्थिव पटेल के हाथों कैच कराकर इस साझेदारी को तोड़ा.

-पृथ्वी शॉ के तीसरे विकेट के रूप में आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए आदित्य तारे सिर्फ चार रन बनाकर हार्दिक पटेल का शिकार बने.

-पृथ्वी शॉ के पवेलियन लौटने के बाद पारी का जिम्मा संभालने वाले सूर्यकुमार यादव के आउट होने से मुंबई को बड़ा झटका लगा. सूर्यकुमार ने सात चौके और एक छक्के की मदद से 57 रन बनाए.

-मौजूदा सीजन में शानदार फार्म में चल रहे तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने चायकाल के ठीक पहले सिद्देश लाड (23) को आउट कर मुंबई को बैकफुट पर धकेल दिया.

66 साल बाद फिर फाइनल में गुजरात

रणजी ट्रॉफी फाइनल में मुंबई को फेवरेट माना जा रहा है. नॉक आउट दौर में शानदार प्रदर्शन करने वाली मुंबई ने सेमीफाइनल में तमिलनाडु को शिकस्त दी थी. वहीं, गुजरात को अपने पहले खिताब की तलाश है.

गुजरात की टीम इसके पहले सिर्फ एक बार रणजी ट्रॉफी फाइनल में पहुंची थी. 66 साल पहले 1950-51 में इंदौर में ही खेले गए रणजी ट्रॉफी फाइनल में गुजरात को होलकर टीम से शिकस्त झेलनी पड़ी थी.

Loading...

Check Also

महज एक रुपए में हुआ ओलंपियन योगेश्वर दत्त का टीका

ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त के सगाई की रस्म बेहद सादगी से हुई. सगाई भारतीय ...

Loading...